Tuesday, May 4, 2010

जय टिप्पणी माता, मईया जय टिप्पणी माता.....


जय टिप्पणी माता 
मईया जय टिप्पणी माता
तुम्हरे कारण अपना....2
हर पोस्ट ही हिट जाता
जय टिप्पणी माता ....

दर्शन तेरे होते ही, हर कष्ट निपट जाता
मईया हर कष्ट निपट जाता
सुख ही सुख मेरे ब्लॉग में....२
दूसरा कष्ट पाता
जय टिप्पणी माता ....

ब्लॉग माता तुम मेरी, तुम ही ब्लॉग परी
मईया तुम ही ब्लॉग परी
बड़े-बड़े ब्लाग्गर ...२
राह तकें तुम्हरी 
जय टिप्पणी माता ....

मैं कन्या निर्बुद्धि, सूरत ठीक हमरी 
मईया सूरत ठीक हमरी
लिखना-विखना न जानूँ....२
बस पाठक कृपा करी 
जय टिप्पणी माता ....

तुम करुणामयी माता, ब्लॉगवुड भर्ता
मईया ब्लॉगवुड भर्ता
तुझे पाने को ब्लॉगर ...2
हर तिकड़म करता 
जय टिप्पणी माता .....

जो जन टिप्पणी देवें , 
टिप्पणी ही पावें 
मईया टिप्पणी ही पावें
१०० टिप्पणी जब पावें ....२
ब्लाग्गर तर जावें 
जय टिप्पणी माता 

दीनबंधु दुखहर्ता, रक्षक तुम मेरी 
मईया रक्षक तुम मेरी 
मेरा ब्लॉग बचाओ, मेरे पाठक बढ़ाओ 
द्वार पड़ी मैं तेरे ...
जय टिप्पणी माता

विषय विकार बढ़ाऊँ , पोस्ट लिखूँ ऐसी 
मईया पोस्ट लिखूँ ऐसी
आभासी दुनिया की...२
करूँ ऐसी-तैसी 
जय टिप्पणी माता


जय टिप्पणी माता 
मईया जय टिप्पणी माता
तुम्हरे कारण अपना....2
हर पोस्ट ही हिट जाता
जय टिप्पणी माता ....


बोलिए प्रेम से टिप्पणी माता की ........जय....
भक्त जनों से निवेदन है कि...टिप्पणी माता को प्रसन्न करें....और इस कार्य हेतु ...टिप्पणी का दान करना होगा...जो जितना दान करेगा...उस ब्लाग्गर भक्त पर टिप्पणी माता अपना विशेष आशीर्वाद करेंगी....टिप्पणी माता की कृपा आप पर बनी रहे इसी शुभकामना के साथ.....
आपकी ब्लॉगर बहना ...
'अदा'


38 comments:

  1. बहुत खूब 'अदा' जी !! क्या 'अदा' है आप की ..... मान गए साहब !!


    टिप्पणी माता की ........जय !!

    ReplyDelete
  2. टिप्पणी माता प्रसन्न हुईं
    कितनी टिप्पणी चाहिये बच्चा
    एक तो अभी ले लो

    ReplyDelete
  3. अदा जी,
    आज का सारा दिन मस्त जाने वाला है, पक्की बात है।
    वो रह गया लिखने से कि जो इस संदेश को आगे फ़ारवर्ड करेगा उसके सारे काम बन जायेंगे(टिप्पणी मिलने के, वापिस मांगने के आदि आदि) और जो इसको इग्नोर करेगा उसे टिप्पणी नहीं मिलेगी और यदि वह ब्लॉगर कहीं टिप्पणी करेगा भी तो उसकी टिप्पणी ब्लॉग मालिक द्वारा कहीं दफ़न कर दी जायेगी।
    आभार आपका, आज के दिन की शुरूआत इतने मस्त तरीके से करने के लिये।

    ReplyDelete
  4. जय टिप्पणी माता !
    बहुत सुन्दर भजन है, बस अब कीर्तन शुरू कर देते हैं ...
    टिप्पणी माता की जय हो ... ब्लॉग देवी की जय हो ...

    ReplyDelete
  5. जय टि्प्पणी माता
    जय टिप्पणी माता
    हमारे उपर तो टिप्पणी लौटाने के लिए
    मुकदमें की तैयारी हो रही है, टिप्पणी
    लौटाने की धमकी दी जा रही है आप
    यहां पर दे्खिए

    ReplyDelete
  6. देखा न टिप्पणी माता की कृपा आज इतने दिनो बाद मै टिप्पणी देने आयी हा हा हा । बहुत खूब जै हो।

    ReplyDelete
  7. सब ब्‍लॉगरों जोर से बोलो
    टिप्‍पणी माता की जय

    सब ब्‍लॉगरों मिलकर बोलो
    टिप्‍पणी माता की जय

    मैं नहीं सुणया ब्‍लॉगरों
    टिप्‍पणी माता की जय

    आवाज नहीं आई
    टिप्‍पणी माता की जय

    एक हिन्‍दी ब्‍लॉगरों का जागरण ताऊजी ब्‍लॉग पर करवाया जाये। जिसमें इस आरती का सस्‍वर पाठ हो और बीच बीच में जय बोली जाती रहे। इसमें जो जो भी टिप्‍पणी करें उन्‍हें 101 देने की व्‍यवस्‍था हो।

    एक बार फिर जोर से बोलो
    टिप्‍पणी माता की जय।

    ReplyDelete
  8. वैसे टिप्पणियां सही मायने में ब्लॉग की ताकत है ,बशर्ते पोस्ट की भावना को पूरी तरह समझकर किया जाय / लेकिन आपकी ये अदा भी खूब है ,"जय टिपण्णी माता" , अच्छी प्रस्तुती /

    ReplyDelete
  9. Wah,

    Ant mein;

    Twamev maataa ch pitaa twamev,
    Twamev bandhu ch sakhaa twamev,
    Twamev vidhyaa Dravinam twamev,
    Twamev sarvam mamdev devaa.

    ReplyDelete
  10. इस पोस्ट को पढ़ कर जो भी टिप्पणी करेगा, टिप्पणी माता खुश होकर उसे तत्काल अपनी पोस्ट पर पांच टिप्पणियों का प्रसाद दिलाएंगी...और जो पोस्ट को पढ़ने के बाद चुपचाप कलटी मारने की कोशिश करेगा उसकी पांच टिप्पणियां आते आते बीच रास्ते में ही दिशा बदल कर दूसरी पोस्टों पर जा चिपकेंगी...यहीं नहीं पहले से आई हुई टिप्पणियां भी गायब हो जाएंगी...

    भलाई इसी में है कि टिप्पणी माता को मनाए रखो...

    जय हिंद...

    ReplyDelete
  11. टिप्पणी माता की ........जय...


    -हम तो माता के अन्यन भक्त हैं..आप तो जानती ही हैं. :)

    ReplyDelete
  12. बोलिए प्रेम से टिप्पणी माता की ........जय...

    ReplyDelete
  13. वाह वाह, सबलोग एक साथ बोलो- टिप्पणी माता की जय... बहुत ही प्यारी कविता.. फ़ुल ओफ़ क्रियेटिवनेस...

    ReplyDelete
  14. साथ में गाकर कहे नहीं लगाया...?

    ReplyDelete
  15. बोलो टिप्पणी माता कीऽऽऽऽऽऽ

    जैऽऽऽऽऽऽ


    हम मानता मानते हैं कि यदि टिप्पणी माता की कृपा से यदि हमारा "बन्धन" साइट फलने फूलने लगा तो हम एक मन्दिर का नर्माण करवा के उसमे टिप्पणी माता की प्रतिमा प्रतिष्ठित करेंगे।

    ReplyDelete
  16. बढ़िया रही यह टिप्पणी आरती!
    इसे केवल आप ही लिख सकती हैं!

    ReplyDelete
  17. बोलिए प्रेम से टिप्पणी माता की ........जय..और ये लिजिये टिप्पणि भी. टिप्पणी माता सदा सहाय करैं. जय हो ..

    रामराम.

    ReplyDelete
  18. टिप्पणी मैया की महिमा पर हमारी रचना


    ब्लोग्स के जगत में प्रकट हुई साकार
    धन्य ब्लोग्गर जन जब टिप्पणी मैया लियो अवतार
    दयानिधि टिप्पणी मैया की सब गावो जय जय कार
    ब्लॉग जगत करता नमन मैया को बारम्बार

    जिस ब्लॉग पर टिप्पणी मैया दर्शन दे जावे
    उस ब्लोगर जन का ब्लॉग चल जावे
    जिस ब्लॉग पर टिप्पणी मैया रुष्ट हो जावे
    अच्छी पोस्ट के बावजूद ब्लॉग बंद हो जावे

    जो ब्लोगर करता टिप्पणी मैया का बहिस्कार
    ब्लॉग धुआं-धुआं हो जाता, मचती हाहाकार
    फेंक फेंक सब टिप्पणी करते खूब प्रहार
    पल भर में हो जाता ब्लॉग का संहार

    उल्टा-पुल्टा जब कोई पोस्ट चिपका देवे
    टिप्पणी मैया उसकी बारात निकलवा देवे
    मर्यादा भंग जो करते, मैया उनको शरण न देवे
    भक्त जनों को डेली ६०-७० टिप्पणी देवे


    ब्लॉग जगत जिनके प्रताप से चमके लगातार
    शब्द कहाँ बता सकते जिनके सामर्थ्य का विस्तार
    जिनके चरणों में मिले कांफिडेंस वाला द्वार
    टिप्पणी मैया का प्यार पाकर होवे ब्लॉग धन्य हर बार


    मैया सबके ब्लॉग पर करो सदा तुम वास
    तुमरे चरणों में बना रहा अटल विश्वास
    जो भी ब्लोग्गर टिप्पणी महिमा गावे
    हर पोस्ट के बाद १००० टिप्पणिया पावे

    ReplyDelete
  19. sare bolo tippani mata
    jor se bolo tippnai mata

    ReplyDelete
  20. टिप्पणी माता की ........जय !!
    टिप्पणी माता की ........जय !!
    टिप्पणी माता की ........जय !!
    jai ho

    ReplyDelete
  21. @अवधिया जी,
    एक बात और अभी तय कर दीजिए, जब भी टिप्पणी माता का मंदिर बनेगा, फीता काटकर या नारियल फोड़ कर उद्घाटन अदा जी ही करेंगी...

    @संजय भास्कर,
    क्यों शामत बुला रहे हो अपनी, ज़ोर से टिप्पणी माता तो बुलवा दिया, जय कहलाने के लिए क्या किराए के टट्टू बुलवाने पड़ेंगे...

    @गुरुदेव समीर लाल समीर जी,
    आप जब भी भारत आएंगे, अवधिया जी टिप्पणी माता का जागरण कराएंगे...सभी ब्लॉगरजन पूरी श्रद्धा के साथ टिप्पणी माता की वंदना के लिए सामूहिक गान करेंगे...अदा जी वंदना को संगीतबद्ध करने के साथ गायन में भी लीड करेंगी...

    जय हिंद...

    ReplyDelete
  22. टिप्पणी माता की ........जय !!
    बहुत खूब्।

    ReplyDelete
  23. आनन्द फ्राई हो गया ।

    ReplyDelete
  24. "मैं कन्या निर्बुद्धि, सूरत ठीक हमरी
    मईया सूरत ठीक हमरी
    लिखना-विखना न जानूँ....२
    बस पाठक कृपा करी...."

    तो ठीक है ..यहाँ पाठक को दर्शक/निहारक कर लेते हैं !

    ReplyDelete
  25. अजी सब से पहले टिपण्णी माता की मुर्ति तो लगाओ, ओर अब प्रसाद वगेरा भी तो बांटॊ,

    ReplyDelete
  26. टिप्पणी माता की ........जय !!

    आरती तो हो गई...लेकिन भोग-प्रसाद की कोई व्यवस्था नहीं दिखाई दे रही....चलिए प्रसाद न सही कम से कम चरणामृ्त तो होना ही चाहिए :-)

    ReplyDelete
  27. बोलो टिप्पणी माता की जय
    अदा जी क्या कहने आपके मजा आ गया

    ReplyDelete
  28. बहुत खूब...टिप्पणी माता की महिमा अपरम्पार...

    ReplyDelete
  29. Hello Adaa ji...

    Aapne toh kamaaaal kar diya!
    Itna badiya concept... and the way you have written it, simply fantastic!!!

    Regards,
    Dimple
    http://poemshub.blogspot.com

    ReplyDelete
  30. जैकारा टिप्पणी वाली माता का

    ReplyDelete
  31. टिप्पणी माता की जय...

    ReplyDelete
  32. kya baat hai! jai ho jai ho Tippani mata ki jai ho.
    lage rahein sab bas tippani mata ki seva me, bhale hi apne lekhni sudhar pe dhyaan na dein,
    bas aarti gane se hi mata ka aashirwad mil jayega...

    jai ho jai ho jai ho

    ReplyDelete