Thursday, December 17, 2009

मेरा घर मेरे बच्चे...



इन दिनों कुछ भी नया लिखने के लिए समय ही नहीं मिल पा रहा है...कारण मेरा छोटा बेटा मृगांक शेखर हॉस्टल से आया है....
और जैसा की आप जानते हैं बच्चे हॉस्टल से आयें तो सबसे ज्यादा खाने की ही बात होती है...कि क्या-क्या खिलाया जाए.... इसलिए ज्यादातर समय खाना बनाने और खिलाने में ही जा रहा है....हर दिन नई नई फरमाईश .... अपने खाने-पीने के मामले में मृगांक बहुत ही संयत है...लेकिन घर आते साथ ही सारा अनुशासन धरा का धरा रह जाता है...कहाँ मिल पता है उसे घर जैसा खाना ?

मृगांक तो वैसे भी खाने का शौक़ीन है....जब मैंने उसे उसकी फ्लाईट समय से लेने के लिए उसे उठाने के लिए फोन किया तो वो उठ चुका था....छूटते ही बोला खाना क्या बना रही हो मम्मी मेरे लिए...मैंने कहा जो तुम कहो बेटा...बोला बहुत बढ़िया सा गोट मीट और पूड़ी, साथ में रायता और सलाद ज़रूर....वो भी आपका अपना स्टाइल वाला रायता जिसमें आप कुछ डालते हो.....रेड कलर के जो छोटे-छोटे दाने होते हैं.....जो मीठे होते हैं.....मेरा दिमाग तेजी से चल रहा था...ये किसकी बात कर रहा है .....मैंने पूछा क्या बेटा....अरे मम्मी जो सभी लोग कहते हैं कि आपका ये रेसेपी बहुत बढ़िया है....रेड कलर के छोटे-छोटे होते हैं उनमें बीज भी होता है.....तुम अनार की बात तो नहीं कर रहे हो......येस येस.....मम्मी thank god याद आगया नहीं तो पूरे फ्लाईट में मेरा दीमाग ख़राब रहता...... जाहिर सी बात है... ये इतना बड़ा डिमांड तो था नहीं कि पूरा नहीं होता....

मृगांक शेखर की उम्र १९ साल है और वो USA में मेडिकल स्टुडेंट है.....हमेशा हर चीज़ में अव्वल रहा है चाहे वो खेल का मैदान हो....debate , dramma drawing पेंटिंग , फिल्म making या फिर लीडरशिप ...उसके लिए सबकुछ आसन है.... कनाडियन गवर्मेंट से मेलेनिअम स्कॉलरशिप का भी रेसिपियंत है मृगांक...

जब वो आया तो देख कर हैरान हो गई ..... कितना बदल गया है....बॉडी-शोदी बना ली है ...तभी तो जब भी फोन करो ...फोन नहीं उठाता....बाद में वापिस फोन करके कहता ...जिम में था ...फोन जिम बैग में था.... पता नहीं सच या झूठ ...लेकिन बॉडी देख कर तो यही लगता है....उसके जिम कोच से भी बात हुई...कहने लगे ...कि आज से एक साल पहले जब मृगांक आया था मेरे पास तब वो इतना दुबला पतला था कि मुझे नहीं लगता था ये कुछ कर पायेगा.....लेकिन मैं हैरान हूँ खुद इसे देखकर ....मेरे पास जितने भी बच्चे आये हैं ....ये सबसे ज्यादा अनुशासन का जीवन जीता है....मतलब ये की जिम में भी अव्वल.....उसका बड़ा भाई मयंक जो सिर्फ एक साल बड़ा है उससे.....उसके सामने पिद्दी लगने लगा है....और नाराज़ भी है.....वो भी अब जिम ज्वाइन करने की सोच रहा है...मुझे यकीन है वो भी पहलवान बन ही जाएगा....हा हा हा ...

मृगांक अपने अंदाज़ में और अपने जोक्स कहता है...वो शब्दों के साथ खेल कर जोक्स करता है....उन जोक्स को मृगांक जोक्स कहा जाता है उसके जोक्स ओट्टावा के schools में मशहूर हैं और अब मेडिकल colleges में भी लोग उसके जोक्स को जानने लगे हैं......वो बहुत ही हंसमुख और मिलनसार लड़का है....उसकी बहुत इच्छा थी पोलिटिक्स में जाने की लोग उसे मज़ाक में कनाडा का भावी प्रधान मंत्री कहते भी हैं....अब वो बने कि न बने ईश्वर कि मर्ज़ी लेकिन ...उसने मेरी इच्छा का मान रखते हुए मेडिकल में जाना स्वीकार किया......और अब अच्छे नंबर ला रहा है....देखने में भी ठीक-ठाक है इसलिए, लडकियां भी मंडराती नज़र आतीं हैं इनदिनों .... अच्छी किताबें पढना..अच्छी फिल्म्स देखना....दुनिया की हर गतिविधि पर नज़र रखना ....जिम जाना बॉडी बनाना, खूब पढना, अच्छा खाना खाना और स्टाइल से रहना...यही शौक है उसके....बस एक बात में वो हम सबसे कम है....वो गाना उतना अच्छा नहीं गाता है....

अभी कुछ समय पहले की ही तो बात थी....सुबह उठते ही 'मम्मी गोदी' कहता हुआ हाथ फैला देता था.....और मैं गोद में उठा लेती थी...अब भी यही कहता है जब भी मैं उठाने जाती हूँ...फर्क सिर्फ इतना है,की अब वो मेरी गोद में कहाँ समाएगा भला ....

अब मेरे घर में लड़कियों के फ़ोन आने लगे हैं....hello...yes ,who is this ??? Julie ?? crystal ?? sandra ??? whom do you want to speak to??? Mrigank ??? ये सुनते ही ...दूर से ही नहीं नहीं बात करनी है ....करता हुआ जोर जोर से वो हाथ हिलाता है.....मुझे झूठ कहना पड़ता है...वो घर पर नहीं है.....मैंने पुछा भी अरे बात क्यूँ नहीं करते......कहने लगा मम्मी...नानी ने मना किया है...वही देखेगी मेरे लिए लड़की....बेकार में क्यूँ अपना टाइम वेस्ट करना.... अब जो भी चिट्ठियाँ आतीं हैं ऊपर डॉ. मृगांक देख कर बहुत ख़ुशी होती है..

अभी कुछ दिनों पहले कि बात है......मेरी गाडी हमारे ड्राइववे से चोरी हो गई....मुझे बस से आना-जाना करना पड़ा एक-दो दिन .....उस दिन भी मैं बस से आ रही थी ...मेरी सामने वाली सीट पर दो खूबसूरत गोरी लडकियां बैठी हुई बात कर रही थी.....'मृगांक' नाम सुनते ही मेरे कान खड़े हो गए.....वो रटती जा रहीं थी...he is so cool....he is so smart....अब मृगांक नाम इतनी आसानी से उबलब्ध हो नहीं सकता ओट्टावा में...वो भी मेरे ही घर के पास.....जब मैं उतरने लगी अपने घर के पास .....उनमें से एक लड़की को कहते सुना ....'You see ... that is his house ' और बस बात पक्की हो गयी कि ये अपने ही छोरे की बात कर रहीं थीं....मृगांक को कई गोरियों ने dateing के लिए आमंत्रित किया ...उसने हर किसी से यही कह दिया मेरी माँ से पूछो....अब लडकियां उसे 'मम्मी का pet ' कहने लगीं हैं...और उससे नाराज़ भी हैं....ये कैसा लड़का है हर काम अपनी माँ से पूछ कर करता है...??

इसबार हमलोग बहुत नर्वस थे.....वार्षिक परीक्षा का रिसल्ट आ गया है...मृगांक के क्लास में १२ स्टुडेंट्स थे और सिर्फ ४ ही पास कर पाए हैं....जो अगली कक्षा में जायेंगे ....बाकि ८ उसी क्लास को दोहराएंगे...मृगांक अपनी कक्षा में सेकेंड आया है ..उसे ९६% मिले हैं .....पहले स्थान पाने से सिर्फ १% पीछे रह गया...लेकिन मैं खुश हूँ... आप सबका आशीर्वाद चाहिए मृगांक को.....अभी उसे बहुत मेहनत करनी है...

(दोनों भाई...मृगांक और मयंक )

27 comments:

  1. अदा जी,

    प्रिंस चार्मिंग घर में है और आप खामख्वाह ऐरे गैरे-नत्थू खैरों को फिल्म में हीरो लेने की बात कर रही थीं...

    कल ही महफूज़ ने संस्कार पर पोस्ट लिखी...और आज आपने संस्कार किसे कहते हैं, बच्चों को कैसे दिए जाते हैं, इसकी इतनी अच्छी मिसाल दी...मृगांक के लिए कामना है कि दुनिया का सबसे बड़ा डॉक्टर बने और मानवता की सेवा करे...वैसे मयंक बाबू भी कम छुपे रूस्तम नहीं है...उनकी चित्रकारी से पता चल रहा है...एक पोस्ट मयंक पर भी लिखें तो अच्छा लगेगा...और आज आप और संतोष जी अगर ये गाना गाते तो बड़ा माकूल रहता...

    खुशियां ही खुशियां हो दामन में जिसके
    वो क्यूं ना दीवाना हो जाए...

    जय हिंद...

    ReplyDelete
  2. "इन दिनों कुछ भी नया लिखने के लिए समय ही नहीं मिल पा रहा है...कारण मेरा छोटा बेटा मृगांक शेखर हॉस्टल से आया है.... "

    घर परिवार सबसे पहले! लेखन तो चलता ही रहेगा।

    बहुत अच्छा लगा मृगांक के बार में जानकर! और भी अच्छा लगा यह जानकर कि विदेश में होकर भी मातृभक्त और नानीभक्त है!!

    ReplyDelete
  3. मृगांक एक अच्छा बेटा है -वह सफलता के सारे सोपान पार करे -यही आशीष है !

    ReplyDelete
  4. I am suffering from empty nest syndrome...bachhon kaa ghar aanaa hamesha sukhad ehsaas hota hai..hamesh yah ehsaas bana rahe..beteko dheron shubhkamnayen!

    ReplyDelete
  5. मृगांक अभी तो विवाह के लिए बहुत छोटा है, 21 तक तो भारत में विवाह की छूट नहीं है। मम्मी से बात करो, हिन्दुस्तानी लक्षण है। मेरी बेटी भी यही कहती है कि उस का पार्टनर तो मम्मी-पापा ही तय करेंगे।

    ReplyDelete
  6. परिवार संग खुशियों के पल बांटना, यह क्या किसी लेखन से कम है ?

    ReplyDelete
  7. बहुत प्रतिभाशाली बेटा है आपका।
    ज़ाहिर है, आप ही के गुण हैं उसमे।
    मुझे पूरी उम्मीद है , बहुत तरक्की करेगा जीवन में।
    लेकिन शादी की बात अभी से क्यों ?
    अभी तो उसे पढने दो और आज़ाद जिंदगी के मज़े लेने दो।
    शुभकामनाएं।

    ReplyDelete
  8. ढेर सारी शुभकामनायें.

    SANJAY KUMAR
    HARYANA
    http://sanjaybhaskar.blogspot.com

    ReplyDelete
  9. बहुत ही सुन्‍दर प्रस्‍तुति ।

    ReplyDelete
  10. देखलो मृगांक! मम्मी नाहक ही फ़िक्र करती है.
    तुम अभी से इतने समझदार हो गए. तुम्हारे चमकते भविष्य के लिए ढेरो शुभकानाएं !!

    और हाँ, पापा का भी तो योगदान होगा न तुम्हे टॉप बनाने में.

    - सुलभ

    ReplyDelete
  11. आपकी संतोष भरी गर्वीली पोस्ट बहुत कुछ कह जाती है। ईश्वर मृगांक को नई ऊँचाईयाँ दे।

    ReplyDelete
  12. naee naee dishes banaiye...bachchon ko khoob khilaaiye ...

    ReplyDelete
  13. अच्छी जानकारी। बहुत-बहुत शुभकामनाएं और आशीष।

    ReplyDelete
  14. adaa ji,

    aapke parivaar se milana achchha laga..mrigank aur mayank ko meri shubhkamnayen....

    ReplyDelete
  15. are kya baat hai...aakhir beta kiska hai....all the very best to him.

    ReplyDelete
  16. मृगांक को उसके भावी सुनहरे भविष्य की अनगिनत शुभकामनायें....कहना ही होगा कि आपने अपने बच्चों को बहुत अच्छे संस्कार दिए हैं ...महफूज़ को अपनी पोस्ट लिखने की प्रेरणा शायद यही से मिली है ....
    आप बार बार साबित करती है कि आप एक सुघड़ महिला , श्रेष्ठ माँ है ...आपकी आगे श्रधान्वत होने को जी चाहता है ....इतनी अद्भुत महिला से प्राप्त स्नेह से मैं अपने आप को गौरान्वित महसूस करतीहूँ ...बहुत आभार ...!!

    ReplyDelete
  17. मृगांक को उसके भावी सुनहरे भविष्य की अनगिनत शुभकामनायें....कहना ही होगा कि आपने अपने बच्चों को बहुत अच्छे संस्कार दिए हैं ...महफूज़ को अपनी पोस्ट लिखने की प्रेरणा शायद यही से मिली है ....
    आप बार बार साबित करती है कि आप एक सुघड़ महिला , श्रेष्ठ माँ है ...आपकी आगे श्रधान्वत होने को जी चाहता है ....इतनी अद्भुत महिला से प्राप्त स्नेह से मैं अपने आप को गौरान्वित महसूस करतीहूँ ...बहुत आभार ...!!

    ReplyDelete
  18. मृगांक तो पूरे हीरो लग रहे हैं..


    गोट मीट और पूरी बनी और हमें खबर तक नहीं..गलत बात!!


    बहुत खूबसूरत पोस्ट. बच्चों को अनन्त शुभकामनाएँ. मयंक भी जब ठान चुके हैं जिम जाने की तो अब अगले साल देखियेगा जरा!! :)

    ReplyDelete
  19. इतना अच्छा लगा,मृगांक से मिलकर,शब्दों में बयाँ कर पाना मुश्किल...तो ये राज़ है आपकी व्यस्तता का?...बडा ख़ूबसूरत राज़ है. कुछ दिन कडछी,पलटे से ही नित नए व्यंजन लिखते रहें...कोई शिकायत नहीं

    उसके चेहरे पर आत्मविश्वास की चमक और एक संयत आभा, पूरा व्यक्तित्व उजागर कर देती है.उसकी कामयाबी सुन तो दिल गर्व से भर गया..ऐसे ही प्रगति के पथ पर सफलता के नए नए झंडे गाड़ता रहें.ढेरों आशीष.

    और हाँ!! उसका लड़कियों से शर्माना तो लाज़मी है...ऐसा शारीरिक सौष्ठव,सुन्दर संस्कार और अप्रतिम सफलता,लडकियां तो घेरे रहेंगी..दूर से नमस्कार कर,नानी की बात मानने में ही भलाई है.

    ReplyDelete
  20. प्रिंस चार्मिंग घर में है और आप खामख्वाह ऐरे गैरे-नत्थू खैरों को फिल्म में हीरो लेने की बात कर रही थीं...

    Khusdeep ji ki baat se sehmat hoon aDaDi.
    Waise ye kis film ki baat ho rahi hai, Script writer kaun hai ye zarror janna chahoonga.


    Mrigank ki jeevan shaliey dekhkar bahut accha laga aur uska har jagah avval hona bhi. Kai dino baad koi 'Written' post padhi aapke blog main. Aur usi post main karan bhi tha.
    Waise main anar ke badle boondi guess kar raha tha...
    Aur haan Bhanji ka 'Chalein jaise hawaien sanan sanan' baar baar suna.
    Maaf karna aapke gaane sunna abhi pending hai.
    (kitna tarsaya tumne ki tarz par...)
    :)

    Bachwa

    ReplyDelete
  21. काबिल मां का ....बहुत काबिल बेटा ...राजा बेटा घर आया है तो सब कुछ पीछे छूटा ..जायज है ..मुझे अपनी मां की याद हो आई आपकी ये पोस्ट पढ के ...राजा बेटा को खूब खिलाईये पिलाईये ..और हां ..लगता है जल्दीए मेम लाने वाला है ..बहू के रूप में ....मुलाकात अच्छी लगी ..यादगार एकदम

    ReplyDelete
  22. Di..

    Mera 'Hi' bolna dono se aur Mrigaank se specially ek post likhwana ki aisi body banane ke liye kaisi diet khayen aur gym kaise karen :)

    Aur rahi baat jin ladkiyon se wo baat nahi kerta, unhe aap mera no pass on kar sakti hain :)

    he he .. just kidding..
    ye hoti hai post.. dher saare emotions ke saath..wo jo hum feel karte hain...jo dil bolta hai aur aankhen dekhti hain...

    bahut achha laga dono se milke.. sach mein.. my hugs to them..

    Best Regards,
    Pankaj

    ReplyDelete
  23. Ada ji apke pariwar k bare me jaan kar acchha laga. aur apke honhar bete k bare me bhi jana.bahut acchha laga unke bare me jaankar.
    Ada ji vo din b hoga kisi din jab aapka beta apko apni god me uthayega pyar se...tab aap mehsoos karogi ek naya ehsaas..and i m sure u would like to share that.and i will wait for that day.
    thanks for such a sweat sharing.
    god bless u and ur family.

    ReplyDelete
  24. मृगाँक के लिए ढेर सारी शुभकामनाएँ । अब मेरे बेटे अनुराग को भी मेरे ब्लॉग पर आशिर्वाद दे दीजिए ना दीदी ।

    ReplyDelete
  25. smart boys-both of them....

    मयंक और मृगांक के लिये खूब सारी शुभकामनायें!

    कमाल है अपनी एक और हम-ब्लौगर रश्मि प्रभा जी के बेटे का नाम भी मृगांक है।

    ReplyDelete